Header Ads
Business

अडानी को 937 करोड़ रुपये का नुकसान हो सकता है, जानिए सबसे बड़ा कारण

देश के सबसे अमीर की सूची में दूसरे स्थान पर रहने वाले गौतम अडानी को 937 करोड़ रुपए का नुकसान हो सकता है । अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड ने शेयर बाजार को सूचित किया कि उन्हें म्यांमार में अपना प्रोजेक्ट छोड़ना पड़ सकता है ।

जिसके कारण उस परियोजना का रुपया वास्तव में बर्बाद हो सकता है, यदि परियोजना अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना करती है, तो लगभग $ 937 मिलियन का नुकसान होता है, लगभग $ 127 मिलियन का निवेश । कंपनी के अनुसार, यदि म्यांमार को विदेशी संपत्ति नियंत्रण कार्यालय के तहत एक प्रतिबंधित देश घोषित किया जाता है या यदि परियोजना को वर्तमान प्रतिबंधों का उल्लंघन मिलता है, तो कंपनी को परियोजना से वापस लेना पड़ सकता है ।

अडानी: अमेरिकी प्रतिबंध क्या है

विदेश संपत्ति नियंत्रण कार्यालय अमेरिकी ट्रेजरी विभाग का हिस्सा है । जो देश की विदेश नीति के आधार पर आर्थिक और व्यापारिक प्रतिबंध लगाता है । म्यांमार में 1 फरवरी को एक सैन्य तख्तापलट हुआ । तब से व्यापक विरोध प्रदर्शन जारी है । सैकड़ों लोगों की मौत का क्रम जारी है । जिसकी पूरी दुनिया में आलोचना हो रही है । म्यांमार सेना के अधिकारियों और सैन्य नियंत्रित संस्थाओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया है ।

Realme 8 5G और 8 Pro 5G को जल्द ही भारत में लॉन्च किया जा सकता है, जानिए फीचर्स

अडानी: इस परियोजना पर संकट क्यों है

अडानी ने पिछले साल यंगून इंटरनेशनल टर्मिनल के निर्माण और संचालन का ठेका जीता था । कंपनी के अनुसार, यह कंपनी के स्वामित्व वाली एक स्वतंत्र परियोजना है । अब पेंच यह है कि अडानी की कंपनी प्रोजेक्ट के लिए लैंड यूज फीस के रूप में म्यांमार इकोनॉमिक कॉर्पोरेशन को 30 करोड़ डॉलर का भुगतान करेगी । म्यांमार आर्थिक निगम म्यांमार सेना द्वारा नियंत्रित दो कंपनियों में से एक है और इसमें अमेरिकी प्रतिबंध है ।

अडानी को 937 करोड़ का नुकसान हो सकता है

कंपनी के मुताबिक, उसने इस प्रोजेक्ट पर 127 मिलियन डॉलर या 937 करोड़ रुपए का निवेश किया है । इसमें से 9 लाख रुपए जमीन लीज के लिए एडवांस पेमेंट के रूप में दिए गए हैं, साथ ही करीब 300-350 लोगों को साइट पर काम पर रखा गया है । कंपनी के मुताबिक, अगर वह इस राशि को लिखती है, तो इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि यह कंपनी की कुल संपत्ति का केवल 1.3% है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button