Header Ads
Business

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड: सस्ता सोना खरीदने का आज आखिरी मौका! जानिए 10 ग्राम सोने का भाव

नई दिल्ली: स्वतंत्र गोल्ड बॉन्ड योजना 2021-22: सस्ता सोना खरीदने का आज आपके पास आखिरी मौका है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2021-22 की तीसरी सीरीज में निवेश का आज आखिरी दिन है। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है जो लंबी अवधि में सोने में निवेश करना चाहते हैं।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना की तीसरी श्रृंखला

आपको बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक (गोल्ड बॉन्ड स्कीम) की तीसरी सीरीज के सामान की कीमत 4,889 रुपये प्रति ग्राम तय की गई है। यानी 10 ग्राम सोने के लिए आपको 48,890 रुपये खर्च करने होंगे। बांड खरीदने के लिए ऑनलाइन या डिजिटल रूप से भुगतान करने वालों को बांड की कीमत पर प्रति ग्राम 50 ग्राम की छूट मिलेगी। यानी 10 ग्राम सोने पर 500 रुपये की छूट मिलेगी और 48,390 रुपये चुकाने होंगे।

यह भी पढ़ें- RBI की क्रेडिट पॉलिसी का आज ऐलान, क्या घटेगी होम लोन की ईएमआई?

इससे पहले 17 मई को सरकार ने पहली श्रृंखला पेश की थी, फिर 4,777 रुपये प्रति ग्राम की कीमत पर, दूसरी श्रृंखला 24 मई को सदस्यता के लिए खोली गई थी, फिर इसकी कीमत 4,842 रुपये प्रति ग्राम थी।ग्राम थे।

SGB ​​अब कब बिकेगा?

1. तीसरी सीरीज 31 मई यानी 4 जून तक है यानी आज तक 8 जून को जारी होंगे ये गोल्ड बॉन्ड
2. चौथी सीरीज की सदस्यता 12 जुलाई से 16 जुलाई तक खुली रहेगी, जिसमें बांड जारी करने की तारीख 20 जुलाई होगी।
द. पांचवीं सीरीज 9 अगस्त से 13 अगस्त तक चलेगी, जिसके लिए 17 अगस्त को बांड जारी किए जाएंगे
4. छठी सीरीज 30 अगस्त से 3 सितंबर तक खुली रहेगी, जिसके लिए 7 सितंबर को गोल्ड बॉन्ड इश्यू होंगे।

मैं कहां खरीद सकता हूं?

अगर आप सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करना चाहते हैं, तो आप उन्हें एनएसई, बीएसई जैसे स्टॉक एक्सचेंजों से खरीद सकते हैं। स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (SHCIL) को डाकघर से खरीदा जा सकता है। लेकिन याद रखें कि इसे छोटे वित्तीय बैंकों और पेमेंट बैंकों को नहीं बेचा जाएगा।

बांड का मूल्यांकन कैसे किया जाएगा?

वित्त मंत्रालय ने कहा कि गोल्ड बॉन्ड की कीमत इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड द्वारा जारी सामान्य औसत कीमत पर होगी। यह कीमत निवेश अवधि से पहले सप्ताह के आखिरी तीन कारोबारी दिनों के दौरान 99.9 शुद्धता वाले सोने की औसत कीमत होगी। बांड खरीदने के लिए ऑनलाइन या डिजिटल रूप से भुगतान करने वालों को बांड की कीमत पर प्रति ग्राम 50 ग्राम की छूट मिलेगी।

आप कितना निवेश कर सकते हैं?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की अवधि आठ साल होगी, जिसमें अगले ब्याज भुगतान की तारीख पर पांच साल के बाद बॉन्ड से निवेश वापस करने का विकल्प होगा। आप 1 ग्राम सोना खरीदकर शुरुआत कर सकते हैं। व्यक्ति और हिंदू अविभाजित परिवार (एचयूएफ) अधिकतम 4 किलो तक के बांड खरीद सकते हैं, जबकि ट्रस्टों और इसी तरह के संस्थानों के लिए अधिकतम खरीद सीमा 20 किलोग्राम है। बांड खरीदने के लिए आपके पास केवाईसी होना चाहिए।

मुझे सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश क्यों करना चाहिए?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प है जो लंबी अवधि में सोने में निवेश करना चाहते हैं। क्योंकि सोने की बढ़ती कीमत के साथ ब्याज भी होता है। इसकी मैच्योरिटी 8 साल है, अगर कोई निवेशक इसे पूरी मैच्योरिटी तक बनाए रखता है, तो ब्याज पर कोई कैपिटल गेन टैक्स और कोई टीडीएस नहीं लगता है। पिछले कोरोना महामारी के बीच सोने की कीमतों में 40 फीसदी की तेजी आई और विशेषज्ञों का मानना ​​है कि लंबे समय में 10,000 ग्राम की कीमत 65,000 रुपये से 67,000 रुपये तक जा सकती है।

यह भी पढ़ें- बैंकों का निजीकरण: इस साल सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों का होगा निजीकरण: नीति आयोग

लाइव टीवी

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button