Header Ads
Business

फ्यूल प्राइस: क्रूड ऑयल मार्केट में है तेजी, जानिए पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर क्या पड़ा असर?

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों का सीधा असर घरेलू बाजार में देखने को मिल रहा है. इसलिए देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले हफ्ते की तरह इस हफ्ते भी कच्चे तेल में तेजी आई है. ऐसे में जानकारों का मानना ​​है कि आने वाले दिनों में देश में पेट्रोल और डीजल के दाम और बढ़ेंगे. वर्तमान में आज (शनिवार, 05 जून) इंडियन ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (आईओसी, एचपीसीएल और बीपीपीएल) ने दोनों ईंधनों की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया है, जिससे आम आदमी को राहत मिली है।

आपको बता दें कि पिछले शुक्रवार को पेट्रोल के दाम में 26-27 पैसे प्रति लीटर और डीजल के दाम में 26-30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई थी. लगातार बढ़ रही बढ़ोतरी से देश के कई शहरों में पेट्रोल 105 रुपये प्रति लीटर हो गया है. वहीं, डीजल के दाम बढ़ रहे हैं। कई शहरों में इसकी कीमत 100 रुपये के करीब पहुंच चुकी है. अगर इसी तरह बढ़ोतरी जारी रही तो जल्द ही इसकी कीमत 100 रुपये प्रति लीटर के पार हो जाएगी। जानिए अभी के लिए आज की कीमत…

रिजर्व बैंक ने नहीं बदला ब्याज दर, रेपो रेट 4% पर रहा

पेट्रोल की कीमत
इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक आज देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 94.76 रुपये प्रति लीटर हो गई है. इस बीच आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल 100.98 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है. कोलकाता की बात करें तो यहां आपको 94.76 रुपये प्रति लीटर पेट्रोल देना होगा। चेन्नई में पेट्रोल 96.23 रुपये प्रति लीटर पर मिलेगा। भोपाल में इसकी कीमत 102.89 रुपये और इंदौर में 102.88 रुपये होगी।

डीजल की कीमत
दिल्ली में डीजल की कीमत 85.66 रुपये प्रति लीटर हो गई है. मुंबई में डीजल 92.99 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। कोलकाता में एक लीटर डीजल 88.51 रुपये में मिल सकता है. जबकि चेन्नई में एक लीटर डीजल की कीमत 90 रुपये है, वहीं आपको 90.38 रुपये चुकाने होंगे। भोपाल में भाव 94.19 रुपये प्रति लीटर और इंदौर में 94.21 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

वित्तीय वर्ष 2020-21, 40 साल में देश की अर्थव्यवस्था का सबसे खराब दौर, GDP 7.3% गिरा

चुनाव के दौरान नहीं बढ़े दाम
आपको बता दें कि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय कच्चे तेल बाजार पर निर्भर करती हैं। राज्य के स्वामित्व वाली तेल कंपनियां कच्चे तेल की कीमतों के अनुरूप रोजाना सुबह 6 बजे ईंधन की कीमतें जारी करती हैं। लेकिन हैरानी की बात यह है कि विधानसभा चुनाव के दौरान कच्चे तेल के बाजार में तेजी के बावजूद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं हुई, बल्कि गिरावट देखी गई. चुनाव के दौरान कंपनियों ने दिन के ज्यादातर दाम स्थिर रखते हुए पेट्रोल और डीजल दोनों की कीमतों में थोड़ी कमी की।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button