Header Ads
Business

इस कंपनी के शेयर ने 1 लाख से 10 लाख रुपए कमाए, एक साल में 900% से ज्यादा रिटर्न

नई दिल्ली: शेयर बाजार: शेयर बाजार में ऐसे कई मौके आते हैं जब किसी कंपनी के शेयरों का प्रदर्शन कमाल का होता है। ऐसी ही एक कंपनी है मैग्मा फनकॉर्प। मुंबई की गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी ने सिर्फ एक साल में अपने निवेशकों को 919% लौटाया है।

मैग्मा फनकॉर्प 900 . लौटा

एक साल पहले 8 जून 2020 को Magma Funkorp के शेयर की कीमत 15.30 रुपये प्रति शेयर थी। कंपनी ने सिर्फ एक साल में 900% से ज्यादा का रिटर्न दिया है। यानी अगर किसी ने एक साल पहले मैग्मा फैन कॉर्प के शेयर में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता तो आज वह रकम 10.21 लाख रुपये होती।

मैग्मा फनकारप ने सबको छोड़ा पीछे

इस दौरान तुलना करें तो सेंसेक्स 52.16 फीसदी का रिटर्न दे चुका है। इस साल मैग्मा फनकॉर्प के शेयरों में सिर्फ 290.63% का रिटर्न मिला है। पिछले एक साल में कंपनी ने मुनाफे के मामले में अपने प्रतिस्पर्धियों से बेहतर प्रदर्शन किया है। बजाज फाइनेंस की हिस्सेदारी एक साल में 129.6% बढ़ी है। वर्ष के दौरान मोटोट फाइनेंस में भी 63.27% की वृद्धि हुई और बजाज होल्डिंग्स के शेयरों में केवल 39.79% की वृद्धि हुई।

उछाल कहां से आया, अदार पूनावाला का इससे क्या लेना-देना है?

वीडियो-

लेकिन अब सवाल यह उठता है कि मैग्मा फनकॉर्प के शेयरों में इतनी तेजी कहां से आई? फरवरी 2021 की इस रिपोर्ट पर गौर करना होगा, जिसमें दावा किया गया था कि अदार पूनावाला की कंपनी राइजिंग सन होल्डिंग्स और प्रमोटर ग्रुप के दो सदस्य कंपनी में कंट्रोलिंग स्टेक खरीदने को तैयार थे। मार्च की शुरुआत में, कंपनी के शेयरधारकों ने राइजिंग सन होल्डिंग्स को पसंदीदा इक्विटी शेयर जारी करके 3,456 करोड़ रुपये जुटाने की मंजूरी दी। राइजिंग स्टार 3,456 करोड़ रुपये के नकद सौदे के जरिए एनबीएफसी में 60% हिस्सेदारी खरीदेगा। हालांकि, प्रस्ताव को अभी औपचारिक मंजूरी नहीं मिली है।

कंपनी के शेयरों में भी 6 फरवरी, 2021 को वृद्धि देखी गई, जब उसके निदेशक मंडल ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 3,000 करोड़ रुपये की ऋण प्रतिभूतियों को जारी करने को मंजूरी दी। इन दो घटनाओं के बाद मैग्मा फनकॉर्प के शेयर में तेजी से बढ़ोतरी हुई। यह शेयर जो 29 जनवरी 2021 को 45.15 रुपये प्रति शेयर था, आज उसका हिस्सा 156 रुपये प्रति शेयर है।

लेकिन कंपनी के वित्तीय आंकड़े खराब हैं।

हालांकि, कंपनी के शेयरों में वृद्धि और कंपनी के वित्तीय प्रदर्शन के बीच कोई संबंध नहीं है। पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी का घाटा बढ़कर 35.51 करोड़ रुपये हो गया। बिक्री भी 6.13 प्रतिशत घटकर 572.84 करोड़ रुपये रह गई, जो पहले 610.32 करोड़ रुपये थी।

लाइव टीवी

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button